भारत
Trending

तस्वीरें दिखा शाह ने कांग्रेस को घेरा, कहा- मैं नहीं टैगोर की कुर्सी पर नेहरू बैठे, राजीव गांधी ने तो आराम से चाय पी :

संगबाद भास्कर न्यूज़ डेस्क : लोकसभा में मंगलवार को बंगाल की राजनीति और गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर को लेकर कांग्रेस और बीजेपी में वार-पलटवार हुआ। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने आरोप लगाया था कि पिछले दिनों बंगाल के दौरे पर गृहमंत्री अमित शाह शांतिनिकेतन में टैगोर की कुर्सी पर बैठे थे। गृहमंत्री अमित शाह ने सबूतों के साथ एक तरफ इसका खंडन किया तो तस्वीरें दिखाकर उल्टा कांग्रेस को घेर लिया और कहा कि टैगोर की कुर्सी पर वह तो नहीं बैठे, लेकिन जवाहर लाल नेहरू और राजीव गांधी बैठे थे।

गृहमंत्री अमित शाह ने हाथ में दस्तावेजों को दिखाते हुए कहा, ”यह विश्वभारती के उपकुलपति का पत्र है। मैंने उसने कहा था कि सारे फोटो और वीडियो का एनालिसिस करके बताया जाए कि कहीं मैं बैठा हूं? उन्होंने स्पष्ट किया है कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई।” गृहमंत्री ने कहा कि जहां वह बैठे थे उस जगह पर भारत की पूर्व राष्ट्रपति बैठी हैं, प्रणब दा भी बैठे हैं, राजीव गांधी बैठे हैं और बांग्लादेश की प्रधानमंत्री ने भी स्मारिका में वहीं बैठकर अपनी टिप्पणी लिखी थी।”

इसके बाद शाह ने कहा, ”जब हम सदन में बात करते हैं तो पहले तथ्यों को जांचना और परखना चाहिए। सोशल मीडिया से उठाकर यहां रख दें तो सदन की गरिमा को क्षति होती है। लेकिन मैं इसमें इनका दोष नहीं देखता, इनकी पार्टी की बैकग्राउंड की वजह से इनसे गलती हुई।” तस्वीरें दिखाते हुए गृहमंत्री ने कहा, ”मेरे पास दो फोटोग्राफ निकले हैं। जवाहर लाल नेहरू टैगोर की उस कुर्सी पर बैठे हैं, ये रिकॉर्ड में है फोटोग्राफ, दूसरी एक तस्वीर है कि राजीव गांधी तो टैगोर के सोफे पर बैठकर आराम से चाय पी रहे हैं।”

शाह ने लोकसभा स्पीकर से कहा, ”मेरा आप से अनुरोध है कि इस बात को रिकॉर्ड में स्पष्ट कर दिया जाए। मैं दादा (अधीर रंजन चौधरी) की अपील पर इसे पटल पर भी रख रहा हूं ताकि यह रिकॉर्ड हिस्सा रहे। यह फोटो और शांतिनिकेतन के उपकुलपति के लेटर को पटल पर रखने की अनुमति दी जाए।” स्पीकर ने शाह की इस अपील को स्वीकर कर लिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button